Indian dinner

Eating by sitting on the floor is beneficial to health

The present generation is prone to problems related to digestion, acidity and other allied problem. There is a simple solution. Sitting on the floor and eating has many benefits.

1)      A person is sitting on the floor with crossed legs and the plate is placed on the ground. Now to eat the person has to bend and come to normal position to swallow. This movement activates abdomen and aids in digestion.

2)      Secondly, when the person has to bend to swallow the food and this slows down the process of eating. This in turn allows the brain to get the message of fullness of the stomach, at the right time and avoids over eating.

3)      Sitting on the floor and getting up is a very good exercise and keeps the person fit. If a person can get up from the floor without any help, he is in good health, and this fact is supported by a study (European Journal of Preventive Cardiology)

Our ancestors advocate the habit of eating by sitting on the floor and eating at the dining table is a taboo. We have ignored that and got dining tables into our house. It does not cost anything to pick this habit. Start now and get the benefits.

 

भूमि पर बैठ कर खाने के फायदे

हमारा आज का युवा वर्ग बेहद ही रोगग्रसित होता जा रहा है, इसका मुख्य कारण है प्रतिदिन   की अति व्यस्त जीवन शैली..अनिद्रा, कब्ब्ज, पाचन सम्बन्धी समस्याएं तथा अन्य ऎसे ही शारीरिक समस्याएं आज के युवा वर्ग को जकड़ती जा रही हैं  .. परन्तु इन सभी समस्याओं को एक ऐसा हल है जो बेहद ही आसान है जी हाँ भूमि पर बैठ कर खाना आइये हम जरा इसके वैज्ञानिक प्रभाव को समझते हैं

  1. व्यक्ति जब भूमि पर पालथी लगा कर भोजन ग्रहण करने बैठता है और अपने सामने  भोजन रखता है, तो उसे भोजन को ग्रहण करने के लिए बार बार झुकना और पुन्हः अपने वास्तविक मुद्रा में लौटना पड़ता है यह एक तरह का व्यायाम है जो मनुष्य की पाचन शक्ति को बढ़ता है और उदर सम्बन्धी रोगों से मनुष्य की रक्षा करता है
  2. इस विधि से भोजन ग्रहण करने का दूसरा महत्व यह है की जब मनुष्य भोजन ग्रहण करने के लिए झुकता और पुन्हः अपनी मुद्रा में लौटता है तो इस प्रक्रिया में उसके भोजन ग्रहण की गति धीमी हो जाती है जिससे मस्तिस्क के लिए यह समझना सरल हो जाता है की कब हमारा पेट भर गया है और इस प्रकार वह अधिक खाने से बच जाता है और उसका पाचन तंत्र शक्तिशाली   होता है.
  3. भूमि पर बैठना और पुन्हः उठना बेहद ही उत्कृस्ट व्यायाम है जिससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है यूरोप के वैज्ञानिकों ने यह प्रमाणित किया है कि अगर व्यक्ति बिना किसी सहायता के भूमि से स्वयं ही उठ खड़ा होता है इसका अर्थ हैकी वह स्वस्थ है
  4. हमारे पूर्वज हमेशा भूमि पर बैठ कर भोजन ग्रहण करने के पक्षधर थे,, वे कुर्सी पर बैठ कर खाने का घोर विरोध करते थे और यही कारण है कि वो हमसे अधिक स्वस्थ रहते थे.. अभी भी देर नहीं हुई है आप इस अच्छी आदत को अपनी जीवन शैली में अपनाएं और स्वस्थ रहें

 

 

Lakshmi

Lakshmi

I am a passionate writer. I write my thoughts. My aim is to spread awareness about social issues.

Leave a Response